देखिये मज़ेदार चित्रावली और करिये सिएटल की यात्रा

Apr 12, 2008

इधर कुछ दिनों पहले गीत सम्राट श्री राकेश खंडेलवाल हमारे अनुरोध पर सिएटल पधारे थे. उनके सम्मान में सिएटल में एक काव्य गोष्ठी का आयोजन किया गया था. उनकी यात्रा को एक चित्रावली के रूप में प्रस्तुत करने का प्रयास नीचे किया है. आप चाहें तो आप भी सिएटल भ्रमण का आनंद इन चित्रों के मध्यम से उठा सकते हैं.

चित्रावली देखने हेतु यहाँ क्लिक करें.

ये बताइयेगा की चित्रों के नीचे लिखे हुए काप्श्न्स कैसे लगे और यदि इनको देखकर सिएटल घूमने का मन बने तो भी सूचित कीजियेगा :)

5 प्रतिक्रियाएं:

सब चित्र देख। कैप्शन समेत। चित्र और कैप्शन बड़े धांसू हैं। सियेटल आने का मन बना। कब आते हैं देखो। :)

Cool post, Great blog... Keep it up!

DR.ANURAG ARYA said...

bahut badhiya.....

चित्र और केप्शन दोनों बढिया लगे!

मित्र सियेटल में जो बीते क्षण, मुझको इतिहास हो गये
अलंकार सब साथ तुम्हारा मिला, सहज अनुप्रास हो गये
परिभाषा फिर से नेहा की साथ तुम्हारे रह कर जानी
सियेटल में गुजरे सारे पल, कविता के आकाश हो गये