राजीव अंकल या सोनिया ताई - हैप्पी गाँधी डे

Oct 2, 2007


आप सभी को गाँधीजी के जन्मदिन की शुभकामनाएँ।


गांधी खो गया है

एक बार मेरे छोटा भाई आनंद नें,
अपने मस्तक के पटल पर कुछ तौला,
फिर हमसे आकर बोला,
इंदिरा दादी, प्रियंका दीदी,
राजीव अंकल या सोनिया ताई,
दो अक्टूबर को,
किसका जन्मदिन होता है भाई,

हमने उससे कहा कि,
गाँधी तो नेहरू परिवार के ताने बाने में,
कहीं खो गया है,
और महात्मा,
राजघाट के नीचे बनी,
किसी कंदरा में जाकर सो गया है,

तुमने जितने भी नाम गिनाए,
असलियत में,
उन सभी का जन्मदिन,
दो अक्टूबर को होता है,
और मोहनदास आज भी,
किसी प्लेटफार्म पर पड़ा,
अपनी आँखें भिगोता है।

एक सुलझी हुई पहेलीः
बोलो जी किस फिल्म नें तगड़ी करी कमाई,
गाँधी सपोर्टिंग एक्टर, हीरो मुन्ना भाई।

नोटः ये कविता अनुभूति पर भी पढ़ी जा सकती है।

8 प्रतिक्रियाएं:

Reetesh Gupta said...

सही कह रहे हो अनुभव भाई...बधाई

Udan Tashtari said...

हा हा !! फिर भी...बापू को शत शत नमन...मेरा अलेख पढ़ो..बापू से मुलाकात पर:

http://www.abhivyakti-hindi.org/sansmaran/2007/mainegandhi.htm

आभार...............

गांधी ने फिरोज से इंदिरा नेहरू की शादी कराने के लिए अपना नाम देकर खुद का ही सत्यानाश कर लिया। अब भुगतें! सभी उनको इन्हीं के घर का कोई सदस्य मानते हैं।

Gyandutt Pandey said...

बापू को नमन!
"महान" गांधी फैमिली के बावजूद भी वे याद किये जायेंगे.

भगवान करे देश की जनता छद्म गांधियों को जल्दी पहचाने!

आपके भाई की तरह यह सवाल भारत का हरेक बच्चा पूछे कि मोहनदास गांधी और सोनिया गांधी में दूर-दूर तक कोई समानता है?; कुछ भी उभयनिष्ट है?

सही लिखा है। समीर भाई का लेख् पढ़ लिया कि नहीं ?

Manish said...

बढ़िया...

aapki rachnaye lajawab hain