हमारा अगला प्रधानमंत्री - इकबाल कास्कर

Jun 27, 2007



अभी अभी पता चला,
समर्थन कर रहे हैं राजनीतिक दल,
टिकट देने को तैयार बैठे हैं,
मास्टर दीनानाथ को नहीं,
इकबाल कास्कर को,
दाऊद का भाई होने से कोई बुरा नहीं हो जाता है,
वह शायद मुस्लिम लीग के साथ जाए,
बनातवाला कह रहे थे,

शिव सैनिक गुस्सा हो रहे हैं,
वैलेंटाइन डे का मामला होता तो अभी झपड़िया देते,
नौजवान प्रेमियों को,
या फिर लठिया देते यूपी बिहार की ट्रेन से उतरे,
भैया लोगों को,
पर ये ज़रा टेढ़ी खीर है,
इसलिए बस गुस्सा रहे हैं,

पहले मैं सोचता था कि शिव सैनिक,
अपने कैलाशपति शिवजी के सैनिक हैं,
बाद में पता चला छत्रपति शिवाजी के हैं,
फिर समझ में आया कि सैनिक ही नहीं हैं,
कुछ चीज़ों का पता धीरे धीरे चलता है,

कोई बड़ी बात नहीं है कि कल,
हमारा अगला प्रधानमंत्री इकबाल कास्कर हो,
एक बात तय है,
तब शायद हमारे पाकिस्तान से संबंध सुधर जाएँ,

अभी तो खैर,
हर तरफ सबकुछ ही गोल माल चल रहा है,
संजय बड़ा मासूम है, बच्चन किसान है,
सच बात सिर्फ इतनी है, भारत महान है।

समाचार यहाँ देखें।

5 प्रतिक्रियाएं:

maithily said...

अभिनव जी; एकदम नपे तुले शब्दों में अपनी चिंता जाहिर की है.
पर इस बार हमें आपकी आवाज सुनने को नहीं मिली!
इसकी आदत सी हो गयी है.

भाईजान
जब आयेगा कास्कर
तभी उगेगा भास्कर
सन्देहों की साये से हट
अब मेरा विश्वास कर

Gaurav Pratap said...

बहुत खूब. शायद हम सब पुंसत्व खोते जा रहे हैं(विज्ञान ने भी कुछ ऐसा ही ईशारा किया है).

अरुण said...

अरे क्या कर डाला...?
दाउद भाई के साथ भी घोटाला!
अरे कोई तो राजनितिज्ञॊ को इत्तिला दो
प्रधानमंत्री बनेगे दाउद भाइ
मौका भी और दस्तूर भी!
मकोका से बचे
कास्कर को राष्ट्रपति बनादो .

bahut khoob abhinav. is desh ka yahee bhavishya hai.